युवा करेगा लोकतंत्र का फैसला

दरअसल हम इस दौर में जी रहे हैं, जब लोकतंत्र धन्ना सेठों की कठपूतली बन गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.